Shani Jayanti 2022: शनि जयंती पर 30 साल बाद अद्भुत संयोग, शनि जयंती के दिन भगवान शनि को प्रसन्न करने के लिए, आज सूर्यास्त से पहले जरूर करें ये 5 काम

MOX RATHORE

Shani Jayanti 2022: शनि जयंती पर 30 साल बाद अद्भुत संयोग, शनि जयंती के दिन भगवान शनि को प्रसन्न करने के लिए, आज सूर्यास्त से पहले जरूर करें ये 5 काम

Contents
Shani Jayanti 2022: शनि जयंती पर 30 साल बाद अद्भुत संयोग, शनि जयंती के दिन भगवान शनि को प्रसन्न करने के लिए, आज सूर्यास्त से पहले जरूर करें ये 5 कामShani Jayanti 2022: माना जाता है कि इसी दिन सूर्य और छाया के संयोग से शनिदेव का जन्म हुआ था. इस दिन छोटे-छोटे उपायों से आप शनि संबंधी अपनी समस्यामाना जाता है कि इसी दिन सूर्य और छाया के संयोग से शनिदेव का जन्म हुआ था.इस दिन छोटे-छोटे उपायों से आप शनि संबंधी अपनी समस्या दूर कर सकते हैं. इस बार शनि जयंती पर 30 साल बाद एक अद्भुत संयोग भी बन रहा है. ऐसे में यदि आप जीवन में चल रही परेशानियों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आज कुछ विशेष उपाय करने से बड़ा लाभ मिल सकता है. Shani Jayanti 2022: 30 मई को यानी आज शनि जयंती मनाई जा रही है. ये जयंती ज्येष्ठ माह के कृष्ण पक्ष की अमावस्या को मनाई जाती है. माना जाता है कि इसी दिन सूर्य और छाया के संयोग से शनिदेव का जन्म हुआ था. इस दिन छोटे-छोटे उपायों से आप शनि संबंधी अपनी समस्याओं को दूर कर सकते हैं. इस बार शनि जयंती पर 30 साल बाद एक अद्भुत संयोग भी बन रहा है. ऐसे में यदि आप जीवन में चल रही परेशानियों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आज कुछ विशेष उपाय करने से बड़ा लाभ मिल सकता है. ये तमाम उपाय सूर्यास्त के बाद करें तो ज्यादा बेहतर होगा.30 साल बाद अद्भुत संयोगइस बार शनि जयंती पर एक अद्भुत संयोग बन रहा है. इस दिन सुबह 07 बजकर 13 मिनट से लेकर अगले दिन सुबह 05 बजकर 27 मिनट तक सर्वार्थ स सिद्धि योग रहेगा. साथ ही शनिदेव अपनी स्वराशि कुंभ में रहेंगे. ज्योतिषियों का कहना है कि ऐसा संयोग करीब 30 साल बाद बन रहा है.बार-बार हो रही दुर्घटनाअगर आपके साथ बार-बार दुर्घटना घट रही है या पैर व हड्डियों में चोट लग रही है. दुर्घटना का भय सताता है और वाहन बार-बार खराब हो जाता है तो शनि जयंती की श की शाम को एक लोहे का छल्ला बाएं हाथ की मध्यमा अंगुली में धारण कर लें. साथ ही सरसों के तेल में देखकर अपनी छाया का दान करेंनौकरी या रोजगार में समस्यातमाम प्रयासों के बावजूद आपकी नौकरी की समस्याएं समाप्त नहीं हो पा रही हैं या फिर नई नौकरी नहीं मिल पा रही है तो शनि जयंती पर. पीपल के वृक्ष के नीचे सरसों के तेल के नौ दीपक जलाएं और वृक्ष की नौ परिक्रमा करें. संतान प्राप्ति में समस्याअगर पति या पत्नी को कोई गंभीर समस्या है जिसके कारण संतान नहीं हो पा रही है तो शनि जयंती को पीपल की जड़ में जल अर्पित करें और “ॐ क्लीं कृष्णाय नमः” का नमः” का 108 बार जाप करें. यदि संभव हो तो कहीं पर पीपल का वृक्ष लगवा दें.धन या संपत्ति की समस्याअगर आपके तमाम प्रयासों के बावजूद आपका धन खर्च बढ़ता ही जा रहा है. हाथ में पैसा नहीं रुक रहा है. धन की समस्या बढ़ रही है तो शनि जयंती को काले वस्त्र में सिक्के रखकर दान करें 
Balotra News Photo

Shani Jayanti 2022: माना जाता है कि इसी दिन सूर्य और छाया के संयोग से शनिदेव का जन्म हुआ था. इस दिन छोटे-छोटे उपायों से आप शनि संबंधी अपनी समस्यामाना जाता है कि इसी दिन सूर्य और छाया के संयोग से शनिदेव का जन्म हुआ था.इस दिन छोटे-छोटे उपायों से आप शनि संबंधी अपनी समस्या दूर कर सकते हैं. इस बार शनि जयंती पर 30 साल बाद एक अद्भुत संयोग भी बन रहा है. ऐसे में यदि आप जीवन में चल रही परेशानियों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आज कुछ विशेष उपाय करने से बड़ा लाभ मिल सकता है. 

Shani Jayanti 2022: 30 मई को यानी आज शनि जयंती मनाई जा रही है. ये जयंती ज्येष्ठ माह के कृष्ण
पक्ष की अमावस्या को मनाई जाती है. माना जाता है कि इसी दिन सूर्य और छाया के संयोग से शनिदेव का जन्म हुआ था. इस दिन छोटे-छोटे उपायों से आप शनि संबंधी अपनी समस्याओं को दूर कर सकते हैं. इस बार शनि जयंती पर 30 साल बाद एक अद्भुत संयोग भी बन रहा है. ऐसे में यदि आप जीवन में चल रही परेशानियों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आज कुछ विशेष उपाय करने से बड़ा लाभ मिल सकता है. ये तमाम उपाय सूर्यास्त के बाद करें तो ज्यादा बेहतर होगा.

Balotra News Photo

30 साल बाद अद्भुत संयोग

इस बार शनि जयंती पर एक अद्भुत संयोग बन रहा है. इस दिन सुबह 07 बजकर 13 मिनट से लेकर अगले दिन सुबह 05 बजकर 27 मिनट तक सर्वार्थ स सिद्धि योग रहेगा. साथ ही शनिदेव अपनी स्वराशि कुंभ में रहेंगे. ज्योतिषियों का कहना है कि ऐसा संयोग करीब 30 साल बाद बन रहा है.

बार-बार हो रही दुर्घटना

- Advertisement -
Ad imageAd image
अगर आपके साथ बार-बार दुर्घटना घट रही है या पैर व हड्डियों में चोट लग रही है. दुर्घटना का भय सताता है और वाहन बार-बार खराब हो जाता है तो शनि जयंती की श की शाम को एक लोहे का छल्ला बाएं हाथ की मध्यमा अंगुली में धारण कर लें. साथ ही सरसों के तेल में देखकर अपनी छाया का दान करें

नौकरी या रोजगार में समस्या

तमाम प्रयासों के बावजूद आपकी नौकरी की समस्याएं समाप्त नहीं हो पा रही हैं या फिर नई नौकरी नहीं मिल पा रही है तो शनि जयंती पर. पीपल के वृक्ष के नीचे सरसों के तेल के नौ दीपक जलाएं और वृक्ष की नौ परिक्रमा करें.


 संतान प्राप्ति में समस्या

अगर पति या पत्नी को कोई गंभीर समस्या है जिसके कारण संतान नहीं हो पा रही है तो शनि जयंती को पीपल की जड़ में जल अर्पित करें और “ॐ क्लीं कृष्णाय नमः” का नमः” का 108 बार जाप करें. यदि संभव हो तो
कहीं पर पीपल का वृक्ष लगवा दें.

धन या संपत्ति की समस्या

अगर आपके तमाम प्रयासों के बावजूद आपका धन खर्च बढ़ता ही जा रहा है. हाथ में पैसा नहीं रुक रहा है. धन की समस्या बढ़ रही है तो शनि जयंती को काले वस्त्र में सिक्के रखकर दान करें


 

- Advertisement -
Ad imageAd image

Share This Article
Follow:
is an Indian Artist, Web Developer , and Writer. Also known as Artist Mox Rathore and Mukesh Rathore.
Balotra News-बालोतरा न्यूज़ We would like to show you notifications for the latest news and updates.
Dismiss
Allow Notifications